Home Business Rich Dad Poor Dad Book Summary With All Principals (Ch-9) सीखने के...

Rich Dad Poor Dad Book Summary With All Principals (Ch-9) सीखने के लिए काम करें पैसे के लिए नहीं

Rich Dad Poor Dad Full Book Summary With All Principals | Work for Learning Not for Money | How to Fly in the Open Sky? | How to Handle a Team of Workers? By Robert Kiyosaki

0
Rich Dad Poor Dad Full Book Summary With All Principals | Work for Learning Not for Money | How to Fly in the Open Sky? | How to Handle a Team of Workers? By Robert Kiyosaki
Rich Dad Poor Dad Book Summary With All Principals: Work for learning not for money
  1. ऐसी अपॉर्चुनिटी ढूंढिए जो की बाकि ना ढूंढ सके, याद रहे कि आपका दिमाग वह देख सकता है जो बाकियों की आंखें भी नहीं देख पाए।

  2. दूसरा है पैसा बढ़ाइए जब पैसे की जरूरत पड़े तो middle-class केवल बैंक जाता है मगर दूसरे टाइप के इन्वेस्टर पैसा बड़ा करके कैपिटल रेस करते हैं। उन्हें हमेशा बैंक की जरूरत नहीं पड़ती।

  3. तीसरा स्मार्ट लोगों को ऑर्गेनाइज कीजिए इंटेलिजेंट लोग वह होते हैं जो अपने से ज्यादा स्मार्ट लोगों के साथ मिलकर के काम करते हैं। इस लिए इन्वेस्ट करने से पहले अपने इन्वेस्टमेंट एडवाइजर को चुने। मुझे मालूम है की यह सब आपके लिए कुछ ज्यादा है मगर इसके रिवॉर्ड्स तो बड़े ही शानदार है। जिंदगी में रिस्क (Risk) बहुत है लेकिन उन्हें हैंडल करना सिख कर ही बहुत अमीर बन सकते है।

एक बार एक जर्नलिस्ट ने रोबोट का इंटरव्यू लिया था रोबर्ट उसके आर्टिकल पहले भी पढ़ चुके थे, और उस जर्नलिस्ट के लिखने के स्टाइल से बहुत ही अधिक प्रभावित थे। इंटरव्यू जो पूरा हुआ तो उस जर्नलिस्ट्स रॉबर्ट को बताया कि वह एक मशहूर लेखिका बनकर उनकी तरह 1 दिन फेमस होना चाहती है। तो रोबर्ट ने उस जर्नलिस्ट पूछा तो ऐसा क्या है जो उन्हें मशहूर होने से रोक रहा है ? इस सवाल के जवाब में जर्नलिस्ट ने कहा की उनकी जॉब आगे नहीं बढ़ पा रही है। इस पर रोबर्ट ने सुझाव दिया कि उस जर्नलिस्ट को कोई सेल्स क्लास (Sales Class) ज्वाइन कर लेनी चाहिए।

जर्नलिस्ट ने बताया कि उनकी एक दोस्त उन्हें पहले ही यह ऑफर दे चुकी है, मगर उन्हें यह छोटा काम लगता है। वह यह भूल गई थी कि रॉबर्ट खुद कभी सेल्स स्कूल जा चुके थे। तो इस बात का पॉइंट यह है कि अगर आपके पास कोई टैलेंट है जिसके दम पर आप कुछ पैसा कमाना चाहते हैं तो आपका टेलेंट काफी नहीं होगा। क्योंकि उस टैलेंट को कैसे बण्याया जाए। जब तक आप यह बात नहीं जानते तब तक आपका टैलेंट यूं ही बेकार है, जब तक आप उसे लोगों के सामने पेश करने का हुनर नहीं सीख जाते आप कुछ नहीं कमा सकते।

तो बेचने की कला सीखने में कोई शर्म की बात नहीं है किसी भी सेल्समैन को उसके लिए शर्मिंदा नहीं होना चाहिए। एक जो सबसे बड़ा फर्क अमीर और गरीब के बीच में था वह यह कि गरीब हमेशा नौकरी की चिंता करते थे, की जॉब हमेशा शुरक्षित रहे। क्योकि सेव जॉब ही उनके लिए सब कुछ थी। जबकि उनके अमीर डैड सिर्फ और सिर्फ कुछ नया सिखने पर ज़ोर देते थे।

अमीर बनने के लिए आपको बहुत कुछ सीखना पड़ेगा। अगर इसके अलग पहलू को देखे तो स्कूल हमें रिवॉर्ड करते हैं किसी एक ही खास चीज में महारत के लिए। इसका एक उदहारण देखिए जब डॉक्टर मास्टर की डिग्री लेते हैं उसके बाद किसी की स्पेशल पर किसी स्पेसल फिल्ड में नौकरी करते है। मतलब यह है की उन्हें एक छोटे विषय पर बहुत अधिक पढ़ना होता है, उस फिल्ड में महारत पाने के लिए और यही उनका रिवॉर्ड होता है। ऐसे ही बहुत कुछ जानने के लिए यह जो थोड़ा बहुत आप सीखते है वह नॉलेज तभी आएगी जब आप अलग-अलग कंपनी इसके लिए काम करेंगे। दुनिया की अलग-अलग चीजों को जानेंगे चीजें कैसे काम करती है यह सभी बातें अनुभव करेंगे। तभी आप की नॉलेज बढ़ेगी।

खुले आसमान में कैसे उड़े ? / वर्कर्स की टीम को कैसे हैंडल किया जाए ?

शायद यही वजह थी कि आमिर डैड छोटे रॉबर्ट और माइक को अपने साथ लेकर जाते थे। जब वह अपने डॉक्टर, लॉयर, अकाउंटेंट इत्यादि या किसी प्रोफेसनल से मिलते जाते थे। जब रोबर्ट मैरीन कॉर्प्स ज्वाइन करने के लिए अपनी हाई पेइंग जॉब्स छोड़ी तो उनके पढ़े लिखे लेकिन गरीब डैड समज नहीं पा रहे थे की रोबर्ट ने ऐसी शानदार नौकरी क्यों छोड़ी ? इस अलग तरह के फैसले से निराश हुए, रोबर्ट ने उन्हें समझाने की हर मुमकिन कोशिश की कि उनका ऐसा करना क्यों जरूरी था। मगर उन्हें तो यह बात हजम ही नहीं हो रही थी रोबर्ट ने उन्हें कहा कि वह सीखना चाहते हैं कि खुले आसमान में कैसे उड़े ? उन्हें जानना था कि वर्कर्स की टीम को कैसे हैंडल किया जाए ? किसी भी कंपनी को अपने बलबूते पर चलाना कितना मुश्किल काम है ? रोबर्ट यह सभी चीजे सीखना चाहते थे। वियतनाम से लौटने के बाद रोबर्ट ने अपनी जॉब से रिजाइन कर दिया और जेरॉक्स कॉप्स को ज्वाइन कर लिया।

उन्हें यह नौकरी किसी फायदे के लिए नहीं चाहिए थी, वह इतने शर्मीले थे कि किसी को कुछ भी बेचने के ख्याल से ही उन्हें पसीना आ जाता था। अपनी इसी कमी को दूर करने के लिए उन्होंने जेरॉक्स कॉप्स के सेल्स ट्रेनिंग प्रोग्राम की शिक्षा ली। इसके बाद रोबर्ट ने खुद अपनी प्रॉपर्टी अपनी कंपनी की शुरुआत की और अपना पहला शिपमेंट भेजा। वह इसमें नाकामयाब रहते तो पक्का दिवालिया हो जाते लेकिन उन्होंने यह रिस्क लिया और अपने अमीर डैड की सिख को याद रखा रखा कि बेशक आप 30 उम्र से पहले दिवालिया होने का रिस्क ले सकते हो क्योंकि इस उम्र में आपको रिकवर होने का मौका भी मिल जाता है।

ज्यादातर एम्प्लोये अपने वर्कर्स को इतना तो पे करते हैं कि वह काम छोड़कर ना जाए और ज्यादातर बढ़कर दिल लगाकर इसलिए भी मेहनत करते हैं कि वह काम से निकाले ना जाए। इसीलिए तो उन्हें सिर्फ अपनी सैलरी और कंपनी से मिलने वाले फायदों से ही मतलब होता है। इस सोच के साथ उनकी कुछ साल तो बढ़िया गुजरते हैं लंबे समय तक काम नहीं करता। तो क्यों न आप सब कुछ अभी सीखे जो आप सीखना चाहते हैं इससे पहले कि आप कोई एक खास प्रोफेशन अपने लिए चुने क्योकि आपने अगर अपने एक बार प्रोफेशन चुन लिया तो आप हमेशा के लिए उसी में भंदकार रह जाएंगे।

तो दोस्तों इसी के साथ यह बुक समरी यहीं पर समाप्त होती है आप कमेंट बॉक्स में लिख कर बता सकते है आपको यह “रिच डैड पुअर डैड बुक समरी” आपको कैसी लगी? अगर आप खुद के साथ-साथ अपने दोस्त या अपने परिवार के किसी सदस्य को आमिर बन्नता हुए देखना चाहते है तो आप इस आर्टिक्ल को शेयर जरूर करे। आगे हम आपके लिए इसी तरह एक से भड़कर एक बुक्स आर्टिकल लेकर आते रहेंगे। धन्यवाद !

Read Also: Robert Kiyosaki Books Motivational Quotes From Rich and Poor Dad 


Rich Dad Poor Dad All Chapter

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here